ads banner
ads banner
हॉकी न्यूज़अंतर्राष्ट्रीय फील्ड हॉकी समाचारपूर्व कोच हरेन्द्र का भारत की हार पर फूटा गुस्सा, विश्वकप नहीं...

पूर्व कोच हरेन्द्र का भारत की हार पर फूटा गुस्सा, विश्वकप नहीं जीत पाने का है मलाल

Field Hockey News in Hindi

हॉकी न्यूज़ - पूर्व कोच हरेन्द्र का भारत की हार पर फूटा गुस्सा, विश्वकप नहीं जीत पाने का है मलाल

भारत के पूर्व कोच हरेन्द्र सिंह ने मौजूदा विश्वकप में भारतीय टीम की हार के बारे में खुलकर चर्चा की है. वर्तमान में अमेरिकी सीनियर पुरुष टीम के मुख्य कोच की भूमिका निभा रहे हरेन्द्र को अभी भी पिछले विश्वकप में मिली हार का दर्द सता रहा है. ऐसे में उन्होंने इस विश्वकप में भारतीय टीम से जो गलतियाँ हुई उसपर विस्तृत चर्चा की है. 2018 में भी भारतीय टीम क्वार्टरफाइनल से आगे नहीं बढ़ सकी थी और वहीं इस बार भी हुआ कि भारतीय तेम क्वार्टरफाइनल में ही प्रवेश नहीं कर सकी. उन्होंने भारत के द्वारा खेले गए क्रॉसओवर मैच के बारे में भी बात कि है.

पूर्व कोच हरेन्द्र ने की भारतीय टीम की हार पर समीक्षा

उन्होंने कहा कि भारतीय टीम न्यूजीलैंड के आगे दबाव महसूस कर रही थी. इसके चलते वह हार गई और आगे नहीं बढ़ सकी थी. उन्होंने कहा कि 22 जनवरी को भारत को मैच हारते देखना काफी दुखद था. और न्यूजीलैंड से हारने के बाद वह खिताबी दौड़ से बाहर हो गया था.

बता दें हरेन्द्र अभी कैलिफोर्निया में रह रहे हैं. और उन्होंने कलिंगा स्टेडियम में जो कुछ भी हुआ उसके लिए भारतीय टीम को कोसा है. उन्होंने यहाँ तक आरोप लगाया है कि इस टीम में वो दमदार खिलाड़ी नहीं थे जो कि भारत को विश्वकप जीता सकते थे. उन्होंने कहा कि मैंने ऐसा पूरे टूर्नामेंट में देखा है कि भारतीय टीम अपने प्रदर्शन का सम्पूर्ण भाग यहाँ नहीं दे रही थी.

इसी के साथ भारतीय टीम को ओलम्पिक में परफॉर्म करते हुए देखा था तब बहुत अच्छा लगा था क्योंकि तब भारत ने इतिहास रचा था. इतना ही नहीं 41 सालों बाद ओलम्पिक में कोई मेडल दिलाया था. लेकिन टीम ने विश्वकप में जैसा प्रदर्शन किया है उसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की थी. उन्होंने आगे कहा कि भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड के खिलाफ हुए मैच में काफी गलती दोहराई है जो उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ मैच में की थी. जिसके चलते भारत को यह मैच गंवाना पड़ा है.

उन्होंने आगे कहा कि भारतीय टीम को अभी खुद में झाँकना चाहिए जिसके चलते वह और अभ्यास के साथ आने वाले बड़े टूर्नामेंट में उतरे. और अपना सबसे अच्छा प्रदर्शन कर सके.

Yash Sharma
Yash Sharmahttps://bestfieldhockeynews.com/
फील्ड हॉकी एक आयताकार मैदान पर 11 खिलाड़ियों की दो टीमों द्वारा खेला जाने वाला खेल है, जिसका उद्देश्य गेंद को विरोधी टीम के गोल में डालना है।

फील्ड हॉकी लेख

नवीनतम हॉकी न्यूज़