ads banner
ads banner
हॉकी न्यूज़अंतर्राष्ट्रीय फील्ड हॉकी समाचारमां ने बेची सब्जी तो पिता ने चलाया रिक्शा, संघर्ष से भरा...

मां ने बेची सब्जी तो पिता ने चलाया रिक्शा, संघर्ष से भरा है मुमताज खान का जीवन

Field Hockey News in Hindi

हॉकी न्यूज़ - मां ने बेची सब्जी तो पिता ने चलाया रिक्शा, संघर्ष से भरा है मुमताज खान का जीवन

भारतीय महिला हॉकी टीम की राइजिंग स्टार मुमताज खान ने एक बार फिर भारत देश का नाम रोशन किया है. उन्होंने हॉकी स्टार अवार्ड्स में राइजिंग स्टार अवार्ड जीतकर देश का नाम गौरवान्वित किया है.

भारत की फारवर्ड हॉकी खिलाड़ी मुमताज खान FIH की राइजिंग स्टार ऑफ द ईयर बनी हैं. 19 वर्षीय मुमताज को उनके इस साल की शुरुआत में दक्षिण अफ्रीका में हुए वर्ल्ड कप के दौरान उनके शानदार प्रदर्शन को देखते हुए इस ख़िताब से नवाजा गया है.

मुमताज खान ने कठिनाई के दौर में भी नहीं मानी हार

उत्तरप्रदेश के लखनऊ के रहने वाली मुमताज ने जूनियर वर्ल्ड कप के छह मैचों में आठ गोल दागे थे. ज्सिएमं मलेशिया के खिलाफ एक हैट्रिक भी शामिल है. इस टूर्नामेंट में भारतीय टीम चौथे स्थान पर रही थी. मुमताज ने नीदरलैंड के खिलाफ हुए मुकाबले को छोड़कर बाकी सभी टीम के खिलाफ गोल किए थे.

बता दें चाहे आज मुमताज राइजिंग स्टार बन गई हो लेकिन उनके लिए यहां तक का सफर काफी मुश्किल भरा था. मुमताज की मां लखनऊ के तोपखाना बाजार में सडक किनारे ठेले पर सब्जी बेचती है. पिता पहले रिक्शा चलाते थे. परिवार में माता-पिता के अलावा पांच बहनें और है और एक छोटा भाई भी है.

हॉकी के जुनून ने बनाया राइजिंग स्टार

Yash Sharma
Yash Sharmahttps://bestfieldhockeynews.com/
फील्ड हॉकी एक आयताकार मैदान पर 11 खिलाड़ियों की दो टीमों द्वारा खेला जाने वाला खेल है, जिसका उद्देश्य गेंद को विरोधी टीम के गोल में डालना है।

फील्ड हॉकी लेख

नवीनतम हॉकी न्यूज़