ads banner
ads banner
हॉकी न्यूज़फील्ड हॉकी समाचारहॉकी वर्ल्ड कप जीत 48 साल के सूखे को ख़तम करना चाहते...

हॉकी वर्ल्ड कप जीत 48 साल के सूखे को ख़तम करना चाहते हैं Lalit Upadhyay

Field Hockey News in Hindi

हॉकी न्यूज़ - हॉकी वर्ल्ड कप जीत 48 साल के सूखे को ख़तम करना चाहते हैं Lalit Upadhyay

मेंस हॉकी टीम के फॉरवर्ड ललित उपाध्याय (Lalit Upadhyay) चाहते हैं कि अगले साल 13 जनवरी से शुरू होने वाला पुरुष हॉकी वर्ल्ड कप में (Mens Hockey WorldCup) भारत जीते और 48 साल का सूखा खत्म करे.

उनका कहना हैं कि हैं इस बार विश्वकप भारत में हो रहा हैं जो हमारा होम ग्राउंड (Home Ground) हैं, हमे यह की पिचों के बारे में पता है, यहां की ग्राउंड रिपोर्ट्स का पता हैं जिसका हमे फायदा उठाना चाहिए और 48 साल बाद इस बार वर्ल्ड कप जीत लेना चाहिए.

दूसरी बार पुरुष हॉकी विश्वकप की मेजबानी करेगा भारत 

अगले साल 2023 में भारत 13 जनवरी से 29 जनवरी तक ओडिशा (Oddisha) के भुवनेश्वर (Bhuvneshwar) और राउरकेला (Rourkela) में लगातार दूसरी बार पुरुष हॉकी विश्वकप की मेजबानी करने वाला है, इससे पहले साल 2018 में हुए विश्वकप में भी भारत ने ही मेजबानी की थी लेकिन इस समय क्वार्टर फाइनल मैच में पहुंच कर नीदरलैंड (Netherlands) से 1-2 से हारकर विश्वकप से बाहर हो गया था.

ललित उपाध्याय (Lalit Upadhyay) का कहना हैं कि 2018 विश्वकप (Hockey WorldCup 2018) में हमारा दुर्भाग्य था कि विश्वकप के क्वार्टर फाइनल मैच के अंतिम कुछ मिनटों में हमने एक गोल दे दिया और वही से पूरा खेल बदल गया. लेकिन तब से टीम में बहुत सुधार हुआ हैं, हमने बहुत कुछ नया सीखा हैं और खूब जम कर फील्ड पर मेहनत की हैं इसलिए इस बार के विश्वकप के खिताब को जीतने के लिए भारतीय टीम को मजबूत दावेदार माना जा रहा है.

इस बार हमारा लक्ष्य बिलकुल साफ है, फील्ड पर जमकर मेहनत करना हैं और घरेलू फील्ड का फायदा उठा कर शानदार प्रदर्शन करके मेडल जीतना हैं साथ ही लोगो की उम्मीदों पर खरा उतरना है.

आपको बता दे कि अगले साल होने वाले विश्वकप में भारत (इंडिया) को ग्रुप डी में रखा गया है जिसमे साथ में इंग्लैंड, स्पेन और वेल्स देश भी हैं.

Also Read: हॉकी विश्व कप में भारत का पहला मुकाबला इस टीम के साथ

Aditya Jaiswal
Aditya Jaiswalhttps://bestfieldhockeynews.com/
फील्ड हॉकी आइस रिंक या घास के मैदान पर खेला जाने वाला खेल है। यह फ़ुटबॉल के खेल के समान है, लेकिन गेंद को खिलाड़ी की छड़ी से ही स्थानांतरित किया जा सकता है। प्रति टीम में 11 खिलाड़ी होते हैं, और प्रत्येक टीम में एक समय में मैदान पर छह खिलाड़ी होते हैं।

फील्ड हॉकी लेख

नवीनतम हॉकी न्यूज़